रामायण धारावाहिक से जुड़े कुछ दिलचस्ब किस्से (Amazing Facts About Ramayan Serial in Hindi)

दोस्तो रामायण एक ऐसा सीरियल है, जिसका शायद ही किसी को पता न हो, यह धारावाहिक 80 के दशक का सबसे लोकप्रिय सीरियल था। उस समय चुनिंदा लोगो के पास ही टीवी हुआ करते थे और वो भी ब्लैक एंड व्हाइट। जब दूरदर्शन पर इस सीरियल का प्रसारण होता था, तो सड़को पर मानो सन्नाटा छा जाता था। हाल ही में जब 22 मार्च 2020 को भारत मे कोरोना के चलते लोकडॉन लगा, तो दर्शकों की मांग पर इसे दोबारा प्रसारित किया गया और आज भी इस सीरियल को  दर्शको का भरपूर प्यार मिला। आईये तो जानते है, रामायण धारावाहिक से जुड़े कुछ दिलचस्ब किस्से (Amazing Facts About Ramayan Serial in Hindi).

1.  रामायण शो का पहला एपिसोड 25 जनवरी 1987 को प्रसारित हुआ था और 31 जुलाई 1988 को इसका अंतिम एपिसोड शूट किया गया।

2.  इस सीरियल का निर्देर्शन रामानन्द सागर जी ने किया जो इससे पहले “विक्रम बेताल” का निर्देर्शन कर चुके थे। इसके बाद इन्होंने “अलिफ़ लैला”, “श्री कृष्णा” और “साई बाबा” जैसे सीरियल का निर्देशन भी किया।
3.  रामानन्द सागर जी सीरियल के अलावा कई फिल्मो का भी निर्देशन किया है, जिसमे “आरजू”, “आंखे”, “चरस” और “बगावत” जैसी फिल्में शामिल है।
4.  इस शो को लेकर निर्माताओं को सन्देह था, कि लोग इसे पसन्द करेगे या नही। तो शो के निर्माताओं ने दर्शकों का मिजाज नापने के लिए 1985 में “विक्रम बेताल” जैसा सीरियल बनाया। जिसे दर्शकों का भरपूर प्यार मिला और दर्शको के प्यार को देखते हुए ही रामायण का निर्माण किया गया।
5.  जब रामायण बनकर तैयार हुई, तो सभी भारतीय प्रोड्यूसर ने इसे स्पॉन्सर करने से मना कर दिया, क्योकि इस समय फिल्मो का दौर था और सीरयल कोई नही बनाता था। तो फिर रामानन्द सागर ने शो को खुद स्पॉन्सर किया और यह सुपरहिट साबित हुआ।
6.  जब रामायण का पहला एपिसोड शूट हुआ तो इसे शूट होने में करीब 15 दिन का समय लगा और यह एपिसोड 1 घण्टे का था।
7.  रामायण भारत का एकमात्र ऐसा सीरियल था जो 45 मिनट का होता था, बाकी दूसरे सीरियल विज्ञापन के साथ 30 मिनट के आते थे।
8.  इस शो में राम का किरदार ‘अरुण गोविल’ जी ने निभाया था। जब इन्होंने इस रोल के लिये ऑडिशन दिया तो वे रिजेक्ट कर दिए गए, क्योंकि सलेक्शन टीम का मानना था, कि वे राम जैसे नही दिखते।
9.  ‘अरुण गोविल’ जी को बाद में इस रोल के लिए फाइनल कर दिया गया। उनके इस किरदार के पीछे उनकी मुस्कान की बड़ी भूमिका थी।
10.  जब श्री राम की बात आ ही गयी है तो हम हनुमान जी को कैसे भूल सकते है। इस शो में हनुमान जी का किरदार ‘दारा सिंह‘ जी ने निभाया था। वो एक बेहतरीन अभिनेता के साथ साथ पहलवान भी थे, इन्हें आख़िरी बार ‘जब वी मेट’ मूवी में देखा गया था।
11.  इस सीरियल में सीता माता का किरदार ‘दीपिका चिखलिया‘ ने निभाया था, वह उस समय महज 22 साल की थी। अब वह अपने पति हेमन्त टोपीवाला की कॉस्मेटिक कम्पनी में मार्केटिंग हेड के रूप में कार्य करती है।

12.  रामायण में लक्ष्मण का किरदार ‘सुनील लहरी‘ जी ने निभाया था। जब यह ऑडिशन देने गए तो इनका सिलेक्शन शत्रुघ्न के लिए हुआ था।
13.  लक्ष्मण के रोल के लिए निर्माताओं की पहली पसन्द ‘संजय जोग’ थे। मगर किसी कारण वह यह रोल नही कर पाए और ‘सुनील लहरी’ को यह रोल ऑफर हो गया। वर्तमान में अरुण गोविल और सुनील लहरी जी मिलकर एक प्रोडक्शन कम्पनी चला रहे है।

14.  इस शो में रावण का किरदार ‘अरविंद त्रिवेदी‘ जी ने निभाया है। वे इस शो में पहले केवट का किरदार निभाने वाले थे, मगर उनके सलेक्शन रावण के किरदार के लिए हो गया और उन्होंने इस किरदार में जान फूंक दी।
15.  ‘अरविंद त्रिवेदी’ जी एक मंझे हुए कलाकार है। जो लगभग 300 फिल्मो में काम कर चुके है। जब सीरियल में रावण का वध हुआ तो उनके पूरे गाँव मे शोक मनाया गया था।
16.  इस शो में महाराज दशरथ का रोल ‘बालधूरी जी‘ ने निभाया था, जबकि उनकी पत्नी कौशल्या का किरदार ज्यश्रीगड़कर ने। आपको आश्चर्य होगा कि की यह असल जिंदगी में भी पति पत्नी है।
17.  रामायण में भगवान विष्णु की भूमिका ‘भूषण लकांडरी‘ जी ने निभाई थी। वे एक कोरियोग्राफर है, इन्होंने ओमकार, परिदार तथा वजूद जैसी फिल्मों में भी कोरियोग्राफी की है।
18.  रामायण उस समय का सबसे महंगा शो था। इसका एक एपिसोड का बजट 9 लाख रुपये था, इसकी प्रति एपिसोड इनकम करीब 40 लाख रुपये थी।
19.  इन शो की लोकप्रियता को देखते हुए इसके एपिसोड को 52 से बढ़ाकर 78 कर दिया गया था।
20.  लोग रामायण के किरदारों से इस तरह जुड़ चुके थे की लोग उन्हें असल मे भगवान मानने लगे थे। ‘अरुण गोविल’ जी को पब्लिक प्लेस पर किसी शख्स ने स्मोकिंग करते हुए देख लिया था। उस शख्स ने उनसे कहा कि हम तुम्हे भगवान मान रहे है और तुम स्मोकिंग कर रहे हो, इस घटना के बाद उन्होंने नशा त्याग दिया था।
21.  इस शो के सभी कलाकारों ने रामायण के दौरान नॉनवेज व शराब का सेवन करना बंद कर दिया था,  इसके लिए बकायदा सभी कलाकारो से कॉन्ट्रैक्ट भी साइन कराया गया था।
22.  आपको आश्चर्य होगा कि रामायण में युद्ध सीन को दिखाने के लिये कंप्यूटर ग्राफिक्स का उपयोग नही हुआ है जब युद्ध का सीन होता था तो करीब 200 जूनियर आर्टिस्ट को बुलाते थे। युद्ध का सीन शूट करने में करीब 9 लाख का खर्चा आता था।
23.  रामायण को 55 देशो में प्रसारित किया गया जिसे करीब 650 मिलियन दर्शको ने देखा, जो खुद में ही एक रिकॉर्ड है।
24.  वास्तविक रामायण का नाम ‘लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड‘ में भी शामिल है, यह दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला ‘Mythological Show’ है।
25.  भारत देश मे लोकडॉन के चलते 28 मार्च 2020 को दर्शको की मांग पर रामायण को दोबारा DD नेशनल पर दिखाया गया। इसे आज भी दर्शको का वही प्यार देखने को मिला। यह 2020 में सबसे ज्यादा TRP वाला शो बन गया। इसका पहला एपिसोड करीब 1 करोड 70 लाख लोगो ने देखा था। यह शो 2015 से 2020 तक सबसे ज्यादा TRP जेनेरेट करने वाला शो बन गया।
26.  दोस्तो 12 दिसंबर 2005 को “रामानन्द सागर” जी की मृत्यु हो गई थी, लेकिन इनके द्वारा बनाये गए धारावाहिको को सदियों तक याद रखा जाएगा।

तो उम्मीद है, आपको यह पोस्ट पढ़कर बहुत कुछ नया जानने को मिला होगा, यदि हाँ तो आप इसे शेयर कर सकते है अपने लोगों के साथ और अपने अमूल्य विचार, सुझाव निचे कमेन्ट सेक्शन में हमसे ज़रूर साझा करें.   

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *