Amazing facts about Sea in Hindi (समुद्र से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक और रोचक तथ्य )

समुद्र से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक और रोचक तथ्य (Amazing and Interesting facts about Sea in Hindi)
amazing facts about Sea in Hindi

Amazing and Interesting facts about Sea in Hindi: दोस्तों पूरे ब्रह्मांड में पृथ्वी ही एकमात्र ऐसा ग्रह है जंहा जीवन सम्भव है. पृथ्वी की उत्तपत्ति करीब 4537 अरब वर्ष पहले हुई थी, वहीं से इंसान ने अपनी सूझ बूझ से पृथ्वी पर जीवन व्यापन के तरीके खोज डाले. दोस्तो क्या आपको पता है कि पृथ्वी के जन्म के समय समुद्र नही हुआ करते थे, समुद्र का जन्म करीब 100 से 200 करोड वर्ष पहले हुआ. दरअसल जब पृथ्वी का जन्म हुआ तो यह आग का गोला थी समय के साथ साथ जैसे पृथ्वी ठंडी होती रही उसके चारों तरफ गैस के बादल बन गए जिस कारण बादलों के भारी होने पर इनसे वर्षा होने लगी, यह प्रक्रिया करोड़ो वर्ष तक चली जिससे समुद्र का निर्माण हुआ. आज के समय वैज्ञानिक ब्रह्मांड के अनसुलझे रहस्यों को जानने में कुछ हद तक कामयाब रहे है, लेकिन पृथ्वी पर कुछ ऐसी जगह भी है जो वैज्ञानिकों के लिये किसी रहस्य से कम नही. पृथ्वी का 70.92% हिस्सा पानी से ढका है तो इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे समुद्र से जुसे कुछ आश्चर्यजनक और रोचक तथ्य (Sea Facts in Hindi) जो शायद ही आपको पता होंगे.

Sea Facts in Hindi

वैज्ञानिक अरबो किलोमीटर दूर चन्द्रमा और मंगल जैसे ग्रहों को जानने में कामयाब हो पाया लेकिन दोस्तों आपको आश्चर्य होगा कि वैज्ञानिक पूरे समुद्र का केवल 5% हिस्से के बारे मे ही जान पाए है, जबकिं 95% हिस्सा इंसानो के लिये अनसुलझी पहेली ही बना हुआ है.


दोस्तो आपको शायद पता हो की समुद्र की गहराईयों में अरबो रुपयों का सोना पाया जाता है, पर यह जानकर आपके हश उड़ जाएँगे की अगर ये सोना पृथ्वी के 7,800,000,000 (7.8 Billion) लोगो में बांट दिया जाए तो हर इंसान को 4 kg सोना मिलेगा जिसकी कीमत करीब 1करोड 50 लाख रुपये है.


अगर समुद्र की गहराई की बात की जाए तो यह करीब 10,994 मीटर आंकी गयी है, लेकिन मानव इतिहास में अब तक इंसान समुद्र की 500 मीटर की गहराई तक ही जाने में कामयाब हो पाया है.


आपने धरती पर झरने तो जरूर देखें होंगे पर क्या आपको पता है कि समुद्र में भी झरने पाए जाते है, ये झरने आईसलैंड और ग्रीनलैण्ड समुद्र के बीचों बीच पाए जाते है.


दोस्तों हम बचपन से सुनते आ रहे है कि पेड़ लगाओगे तो ऑक्सिजन पाओगे और यह बात बहुत हद तक सही भी है पर आपको आश्चर्य होगा कि हमे दुनिया भर के समुद्रों से करीब 70% ऑक्सीजन मिलती है, पेड़ो की बात की जाए तो हमे पेड़ो से महज 28% ऑक्सीजन मिलती है बाकी अन्य संसाधनों से मिलती है.


अगर किसी कारणवश विश्व के पूरे समुद्र सुख जाए तो समुद्र में इतना नमक निकलेगा जिससे आप पृथ्वी के 510.1 मिलियन कि.मी. स्क्वायर क्षेत्रफल पर 500 फिट मोटी नमक की परत बिछा सकते है.


समुद्र के पानी के खारे होने के पीछे खास वजह यह भी है, अगर समुद्र का पानी खारा नही होगा तो गर्मी वाले इलाके और गर्म, ठंडे इलाके और ठंडे हो जायेगे.


क्या आपको पता है की सोडियम क्लोराइड की मात्रा अधिक होने के कारण समुद्र का पानी खारा होता है.


दोस्तो पूरे विश्व मे प्लास्टिक का इस्तेमाल करने वालो की संख्या बढ़ती ही जा रही और यह इस्तेमाल होने वाला प्लास्टिक समुद्रों में फेंका जाता है. इस कूड़े कर्कट व प्लास्टिक से समुद्र इस कदर बेहाल हो चुके है कि हर साल समुद्रों में 80-100 करोड पौंड कचरा फेंका जाता है वही आज तक समुद्रों में करीब 5.35 ट्रिलियन से भी ज्यादा कचरा फेंका जा चुका है. दोस्तो एक शोध से ज्ञात हुआ है कि पूरे विश्व के समद्रो में प्लास्टिक व कूड़ा कर्कट फैंकने के मामले में चीन, इंडोनेशिया, फिलिफन्स, वियतनाम और थाईलैंड सबसे आगे है, समुद्र में प्रदुषण का 60% हिस्सा यही देश फैलाते है.


दोस्तो जंहा नार्मल टैप वाटर 0 डिग्री सेलसियस पर जम जाता है वन्ही समुद्र का पानी -2 डिग्री सेल्सियस पर भी नही जम पाता क्योंकि इस पानी के 3% हिस्से में नमक होता है.

amazing facts about Sea in Hindi
amazing facts about Sea in Hindi

‘U.S साइंस एंड इंजिनीयरिंग फेस्टिवल’ के अनुसार लभगभ 94% जीवन समुद्रों में पाया जाता है. वहीं पृथ्वी पर महज 6 % जीवन है.


दोस्तो अगर समुद्र न होते तो हम शायद इनटरनेट भी न चला पाते क्योंकि ईंटरनेट कनेक्शन की तारो की लाइन समुद्र के नीचे से ही बिछी हुई है, हम 97% इंटरनेट का इस्तेमाल समुद्रों के वजह से ही कर पाते है.


क्या आपको पत है की समुद्र में जो लहरे उठती है यह प्रक्रिया पृथ्वी के घूमने के कारण उठती है.


एक शोध के अनुसार यह ज्ञात हुआ है कि समुद्र में लगभग 200000 जीव जंतुओं की प्रजातियां पाई जाती है, जिसमे बैक्टीरिया की 35000 प्रजातियां, वायरस की 5000 और कोशिकीय पौधे की 1.5 लाख प्रजातियां शामिल है.


दोस्तो फ्रांस में एक समुद्र के बीचों बीच के सड़क बनी हुई है जिसकी लम्बाई 4.5 किलोमीटर है। यह सड़क दिन में महज दो बार ही नजर आती है। बाकी समय इस पर समय पानी मौजूद रहता है.


कुछ लोगो का मानना है कि सागर और महासागर एक ही है, मगर दोस्तों महासागर समद्रो की तुलना में विशाल और गहरे होते है.


पृथ्वी का सबसे बड़ा और सबसे गहरा महासागर प्रशांत महासागर है और इसकी आकृति त्रिभुजाकार है. इसकी गहराई की बात करे तो यह 10994 मीटर है.


यह महासागर पृथ्वी के 30% क्षेत्र में फैला हुआ है इसका कुल क्षेत्रफल 1,66,246,877 स्कवेयर किलोमीटर में फैला है. इस महासागर ने पृथ्वी पर मौजूद कुल पानी का लगभग 46% हिस्सा कवर कर रखा है.


इस महासागर में सबसे गहरी खाई मरियाना ट्रेंच है, जिसकी खोज 1875 में हुई थी. इस खाई में बड़े बड़े विमान, समुद्री जहाज विलुप्त हो चुके है.


अंटलाटिक महासागर पृथ्वी का दूसरा सबसे बड़ा महासागर है यह अंग्रेजी के ‘S’ आकार का है. इस महासागर का क्षेत्रफल 106.5 मिलियन KM स्क्वेयर है और यह महासागर पृथ्वी पर मौजूद कुल पानी का 25% हिस्सा किये हुये है.


अंटार्कटिका महासागर में ऐसा आईसबर्ग मौजूद है जो 20 बिलियन गैलन पानी को अपने अंदर समेटे हुए है। इस आइसबर्ग में मौजूद पानी से 5 साल के लिये 1000000 लोगो की प्यास बुझाई जा सकती है.


अंटार्कटिका महासागर का क्षेत्रफल 1 करोड 40 लाख किलोमीटर स्क्वेयर है, यह महासागर यूरोप से लगभग 1.5 गुना बड़ा है. इस महासागर में ‘विपोरियन द्वीप’ सबसे गहरी खाई है.

Facts about Sea in Hindi

अंटार्कटिका महासागर की औसतन गहराई 1038 मीटर आंकी गयी है, इस महासागर का क्षेत्रफल 1 करोड 40 लाख 60 हजार किलोमीटर स्कवेयर है.

हिंद महासागर का क्षेत्रफल 7 करोड 56 लाख किलोमीटर स्क्वेयर है, इसमें दुनिया का 20% पानी मौजूद है और इस महासागर की गहराई 3890 मीटर आंकी गयी है, इस महासागर में ‘बुनडा ट्रेंच’ सबसे बड़ी खाई है.


आपको शायद पता ही होगा की सुनामी समुद्र से ही पैदा होती है और दुनिया की सबसे विशाल सुनामी 1737 में साइबेरिया के कमचाटा में आई थी, जिसमे लहरों की ऊंचाई 210 फिट थी.


दोस्तों ‘अलास्का की खाड़ी’ में प्रशांत महासागर और हिन्द महासागर के आपस मे मिलने पर एक अद्भुत नजारा देखने को मिलता है, इसमें आश्चर्य की बात यह है कि इन महासागरों के मिलने पर भी पानी नही मिलता और इस बारे में वैज्ञानिकों की अलग अलग राय है कुछ वैज्ञानिकों का कहना है कि मीठे पानी व खारे पानी का तापमान व घनत्व अलग अलग होता है और कुछ लोग इस रहस्यमयी संगम को धार्मिक मान्यताओं से भी जोड़ते है. लेकिन इस विषय पर कोई सटीक पुष्टि अभी तक नही हुई है.

तो यह थे समुद्र से जुड़े कुछ आश्चर्यजनक और रोचक तथ्य (amazing facts about Sea in Hindi) उम्मीद है यह आपको पसंद आए होंगे. इन्हें अपने लोगों के साथ जरुर शेयर कीजिये और अपने विचार कमेंट बॉक्स में लिखिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *