WWE facts you don’t know| WWE से जुड़े रोचक व दिलचस्प तथ्य

WWE facts you don't know
WWE facts you don’t know

WWE facts you don’t know: दोस्तों वैसे तो कुश्ती के अखाड़ो इतिहास सदियों पुराना है। कुश्ती के बारे मे तो रामायण और महाभारत जैसे ग्रन्थों में भी चर्चा हुई है। कुश्ती का आयोजन मेले जैसे किसी विशेष अवसर पर ही देखने को मिलता है। कुश्ती एक ऐसा खेल है जो किसी हथियार के बिना अपने शारिरिक दम पर खेला जाता है खासकर गांव के लोगो का कुश्ती के प्रति प्यार जगज़ाहिर है। लेकिन दोस्तो जैसे जैसे दौर बदलता गया वेसे ही कुश्ती को और मनोरंजक बनाने के लिए इसमें बदलाव भी किये गए। जो कि समय की मांग थी। वैसे तो कुश्ती के अलग अलग प्रकार होते है लेकिन इनमे से जो लोकप्रिय हुआ वो है WWE। जिसकी लोकप्रियता खासकर बच्चों में देखने को मिलती है जंहा बच्चे अपने पसंदीदा रेसलर्स के मूव्स अपने दोस्तों पर आजमाते हुए नज़र आते है लेकिन दोस्तों wwe को लेकर दर्शकों के मन में कई तरह के सवाल उठते रहते है जैसे wwe में होने वाली फाइट असली होती है या नकली, फाइट क दौरान जो खून निकलता है वो असली या नकली और wwe के रिंग में एक हट्टाकट्टा रेसलर छोटे रेसलर से कैसे हार जाता है आपको इस सारे सवालों का जवाब हमारी इस पोस्ट में मिलेगा आइये तो जानते है wwe से जुड़े कुछ रोचक व दिलचस्प तथ्य WWE facts you don’t know.

WWE facts you don’t know


 WWE की शुरुवात जनवरी 1952 को Jess McMahon ने की थी। 50 के दशक में wwe का नाम CWC( capital wreslting corporation) था।


इस रेसलिंग को पूर्ण रूप से ढांचे में ढालने का काम दो रेसलिंग प्रोमोटर्स ‘Vince Mcmohan sr.’ और ‘Toots Mondit’ ने 24 जनवरी 1963 को किया। दरसल ‘vince Mcmohan’ jess Mcmohan के पोते थे।


इस दौरान wwe का नाम WWWF (world wide wrestling federation) रखा गया था। इस रेसलिंग की खास बात यह थी कि रेसलर्स बिना किसी सुरक्षा के अपने प्रतिद्वंदी से लड़ सकते थे। इनके ऊपर कोई बंदिशें नही थी।


साल 1976 ‘Vince Mcmohan’ के लिये बुरा समय लेकर आया दरसल उनके Co- Partner ‘Toots Mondit’ का निधन हो गया। जिस वजह से कम्पनी का सारा दारोमदार ‘Vince Mcmohan’ के ऊपर आ गया।


Vince Mcmohan sr.’ थोड़े पुराने ख्यालातों वाले व्यक्ति थे। उन्हें लगता था कि रेसलर को सिर्फ रेसलिंग ही करनी चाहिए। वो चाहते थे कि उनके रेसलर मीडिया की चकाचौंध से दूर रहे। 
उस समय WWWF के लोकप्रिय रेसलर ‘Hulk hogan’ थे। जो ‘Vince Mcmohan Sr.’ की कम्पनी की रेसलिंग किया करते थे।


‘Hulk Hogan’ उस समय लोकप्रिय और जाने माने रेसलर थे। अपनी इसी लोकप्रियता के चलते उन्हें एक हॉलीवुड मूवी Rocky-3 का ऑफर आया। जो इन्होंने बिना स्क्रिप्ट पड़े ही यह ऑफर स्वीकार कर लिया। यह बात ‘Vince Mcmohan sr.’ को पसंद नही आई और उन्हें w.w.w.f  से बाहर का रास्ता दिखाया गया। हालांकि इस मूवी में उनके बेहतरीन अभिनय का काफी सराहा गया।


जब साल 1979 आया तो ‘Vince Mcmohan sr.’ ने इस कम्पनी का नाम बदलकर WWF (world wreslting fedration) रख दिया। यह कम्पनी उस दौर की बेहतरीन रेसलिंग कम्पनियों में से एक मानी जाती थी। जिसे दर्शकों का भरपूर प्यार मिल रहा था।


‘Vince McMohan sr.’ ने अपनी मेहनत की बदौलत इस कम्पनी को एक अलग ही मुकाम पर पहुंचा दिया था। साल 1983 में ‘Vince Mcmohan sr.’ ने इस कम्पनी को संभालने की ज़िमेदारी अपने बेटे ‘Vince Mcmohan’ को दे दी।

Vince Mcmohan’ ने जैसे ही इस कम्पनी का कार्यभार संभाला उन्होंने Wwf का स्वरूप ही पूरी तरह बदलकर रख दिया। वे अपनी पिता की गलतियों को सुधारते दोबारा से ‘Hulk Hogan’ को अपनी WWF की दुनिया मे लेकर आये और उन्हें इस कम्पनी का ‘ब्रांड एमबेस्डर’ भी बना दिया। दरसल उन दिनों ‘Hulk Hogan’ की लोकप्रियता बहोत ज्यादा थी। WWE की लोकप्रियता देखकर कई और अन्य रेसलिंग कम्पनियो के रेसलर भी इसमें आने लगे।


‘Hulk Hogan’ ने AWA जैसी कई और रेसलिंग कम्पनियो के बेहतरीन रेसलर को WWF में शामिल कर दिया जिसमें Don muraco, Paul Android, Jimmy snooka जैसे बेहतरीन रेसलर्स शामिल थे।


साल 1985 ‘Vince Mcmohan’ के लिये काफी अच्छा रहा। वे जान चुके थे कि लोग क्या देखना चाहते है तो इस दौरान इन्होंने ‘रेसलमेनिया शो’ का शुभारंभ किया। इस मारा-मारी वाले खेल को दर्शको ने बेहद पसंद किया। फिर वो ‘रेसलमेनिया-3’ को लेकर दर्शको के सामने आए जिसे भी दर्शको से भरपूर प्यार मिला।


‘vince Mcmohan’ के दरवाजे पर फिर से बुरे दौर ने दस्तक दी। उनके रेसलर्स पर आरोप लगा कि वह steroid( इसमे रेसलर्स की बॉडी ज्यादा फुली हुई नजर आती है) का इस्तेमाल करते है। यह बात कोर्ट केस तक जा पहुंची हालांकि वह केस तो जरूर जीत गए पर इसमे Wwf की काफी बदनामी हुई।


‘vince Mcmohan’ इस घटना से इस कदर प्रभावित हुए की बात डिप्रेशन तक जा पहुंची। 1993 में उन्होंने इस घटना से उभरते हुए Monday night को Wwf Raw एपिसोड लॉन्च किया। जिसने की तहलका मचा रख दिया। Wwf की कामयाबी को देखकर WCW जैसी कई और रेसलिंग कम्पनिया दांतों तले उंगली चबाने को मजबूर हो गई।


2002 में Wwf से नाम बदलकर WWE कर दिया गया। दरसल WWF के नाम पर दो कम्पनिया रजिस्टर्ड थी जिसमे दूसरी कम्पनी का नाम ‘World Widlite Fund’ था। इस कम्पनी के मालिक ने ‘Vince macmohan’ पर केस कर दिया और वे केस जीत भी गए। जिस कारण उन्होंने WWF से नाम बदलकर WWE(world wreslting entertainment) कर दिया।

दोस्तो आपको आश्चर्य होगा कि Wwe में मैच की स्क्रिप्ट पहले से ही तैयार होती है। इस स्क्रिप्ट में मैच के जीत हार का परिणाम पहले ही तय होता है। हालांकि इसमें जो फाइट होती है वो असल मे की जाती है। लेकिन इस दौरान कुछ हादसे ऐसे भी हुए है। जिसमे रेसलर्स को चोट के कारण अपना पूरा जीवन विकलांगता में गुजारना पड़ा।


WWE में रिंग के नीचे कई हथियार रखे जाते है ताकि रेसलर्स इसका इस्तेमाल कर सके। जैसे कि स्टील चेयर, लैडर और हैमर। ये कुछ इस मैटेरियल से बने होते है जिसमे प्रतिद्वंद्वी को कम नुकसान हो। इसमे कुछ साउंड इफ़ेक्ट भी डाले जाते है।


WWE के रिंग को Padding की सहायता से तैयार किया जाता है। जिसमें रिंग के लचीलापन होने के कारण रेसलर्स को चोट नही लगती। रेसलर्स को100 फिट की ऊँचाइ से कूदने पर भी कुछ नही होगा।


WWE चैंपियनशिप बेल्ट के सबसे पुराने टाइटल का नाम 13 बार बदला जा चुका है।


WWE में कई बार हारने वाले रेसलर्स को जीतने वाले रेसलर्स की अपेक्षा ज्यादा पैसा मिलता है।


WWE अपनी कम्पनी में शामिल होने से पहले रेसलर्स से एक कॉन्ट्रैक्ट भी साइन करवाती है। जिसमे कुछ पॉलिसी व इनके रूल होते है। जिसमे रेसलर्स को स्क्रिप्ट व स्टोरी लाइन के हिसाब से ही मैच खेलना पड़ता है।


WWE मैच के दौरान कुछ दर्शक ऐसे भी होते जो बार बार किसी दूसरे मैच में भी नजर आते है। दरसल ये WWE के ही कुछ कर्मचारी होते है जो दर्शको के साथ मिलकर रेसलर्स का उत्साह बढ़ाते है।


WWE के दिग्गज रेसलर अंडरटेकर रेसलिंग की दुनिया मे आने से पहले एक बास्केटबॉल प्लेयर थे। वह टेक्सास में 2 साल तक बास्केटप्लेयर के रूप में भी खेल चुके है।


WWE के इतिहास में सबसे महंगे रेसलर ‘Brocklencer’ है जिनकी annual income करीब 28 Million $ है।

तो दोस्तों यह थे WWE facts you don’t know उम्मीद है दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी

यह भी पढ़े:-

Amazing facts about Human eye in Hindi|मानव आँख से जुड़े 40+ कुछ आश्चर्यजनक व चौंका देने वाले तथ्य

Maruti 800 facts in Hindi| मारुती 800 से जुड़े कुछ दिलचस्प व मजेदार तथ्य

Biography of Yuvraj Singh in Hindi|युवराज सिंह की जीवनी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *